जातिवाद की राजनीति करती है सपा, बसपा: सुरेन्द्र बौद्ध

  • --
सहारनपुर। लोकजनशक्ति(रामविलास) के प्रदेश संगठन मंत्री एवं मण्डल अध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार बौद्ध ने कहा कि बसपा, सपा ने हमेशा जातिवाद की राजनीति कर सिर्फ अपना व अपने परिवार का हित साधा है, जिसको जनता बाखूबी समझती है। सुरेन्द्र कुमार बौद्ध आज यहां ग्राम रनियाला दयालपुर में आयोजि एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बसपा व सपा ने हमेशा गलत बयानबाजी कर दलितों, पिछड़ों और सवर्णों के बीच खाई पैदा करने का काम किया है, जबकि चुनाव के दौरान टिकट आवंटन के समय बसपा हमेशा अपनी तिजौरी भरने के लिए इन टिकटों को सवर्णों को बेचकर दलित,शोषित, पिछड़ों के साथ धोखा करने का काम करती है। जबकि ठीक इसके विपरीत एनडीए गठबन्धन सर्वसमाज तथा विकास की बात कहकर जनता से वोट मांगते हैं, और अपने एजेंडे में ऐसा करके भी दिखाते हैं। दलित समाज सपा, बसपा की कार्यशैली को भांप चुका है और आगामी 2024 के चुनाव में बसपा, सपा को मुंहतोड़ जवाब देगा। उन्होंने कहा कि जब बसपा अपने आपको दलित, शोषित वर्ग की पार्टी बताती है तो एमपी,एमएलए के चुनाव मंे सवर्णों को टिकट क्यों देती है। इसलिए दलितों, वंचितों को बसपा की इस दोगली कार्यशैली को समझना होगा। क्योंकि बसपा दलितों के वोट बैंक को बेचने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि लोजपा (रामविलास) गठबन्धन के साथ है और जन-जन को बसपा, सपा की कार्यशैली से अवगत कराने का कार्य करेगी। इस अवसर पर संदीप प्रधान, सत्यपाल सैनी, अंकित बालियान, बालेश्वर वाल्मीकि, योगेन्द्र कुमार, धर्म सिंह, राजीव पंवार, श्रीपाल, ऋषिपाल, सतीश, नाथीराम, बिंदर, नरेश, विकास पंवार, आशीष प्रमुख आदि मौजूद रहे।