भूमि विवाद को लेकर दो पक्षो के बीच हुआ संघर्ष, मुकदमा दर्ज

  • --
हरिद्वार। कोतवाली क्षेत्र के गाँव केवलपुरी व महाराजपुर के ग्रामीणों के बीच में जमीनी विवाद को लेकर हुए खूनी संघर्ष के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। केवलपुरी गांव निवासी महावीर सिंह व महाराजपुर खुर्द गांव निवासी वर्तमान ग्राम प्रधान अरुण कुमार के पिता मांगेराम के बीच जमीनी विवाद चल रहा है। ग्राम प्रधान के मुताबिक उसके पिता ने वर्ष 2002 में 18 बीघा जमीन का इकरारनामा सुखबीर व महावीर को किया था। लेकिन महाबीर आदि ने उस जमीन की फर्जी वसीयत तैयार कर बैनामा अपने नाम करा लिया। अरुण के मुताबिक जमीन को लेकर न्यायालय में विवाद चल रहा है। लेकिन इसके बावजूद भी 26 मई को महावीर पक्ष ने अपने लोगों के साथ मिलकर विवादित जमीन पर ट्रैक्टर से जुताई करना शुरू कर दिया। आरोप है कि इस दौरान खेत में उसकी माँ सविता देवी भी मजदूरों के साथ काम करने के लिए गई हुई थी कि आरोपितो ने उसकी मां के ऊपर भी ट्रैक्टर चढ़ा दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। इस दौरान मौके पर मौजूद लोगों ने घटना का विरोध किया तो दूसरे पक्ष ने खेत पर खड़ी तीन मोटरसाइकिलों में भी आग लगा दी। वहीं दूसरे पक्ष के महावीर सिंह ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि 26 मई को सचिन, अरुण, रामयश, शिवकुमार मंत्री उर्फ विश्वनाथ निवासी महाराजपुर खुर्द तथा गौरव निवासी धारीवाला अपने अन्य अज्ञात साथियों के साथ भूमि पर कब्जे को लेकर ट्रैक्टर चलाकर खेत में खड़ी फसलों को नष्ट कर दिया। जानकारी मिलने पर उसका पुत्र कृष्णपाल चौहान भाई सुखबीर तथा भतीजा मोहन मौके पर पहुंचे तो आरोपितो द्वारा उन पर हमला कर दिया गया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। आरोप है कि विपक्षी लोगों द्वारा उन्हें फसाने के लिए यहां खड़ी बाईकों में खुद आग लगाई गई है। वहीं मामले में कोतवाल राजीव रौथान का कहना कि दोनों गाँव के लोगों के बीच जमीनी विवाद चल रहा है जिसको लेकर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।